Home > Aligarh > कलेन्डर वर्ष के आरम्भ में हुए धार्मिक अनुष्ठान देश के विकास को रोकना होगा प्रतिभा पलायन: हरीकान्त

कलेन्डर वर्ष के आरम्भ में हुए धार्मिक अनुष्ठान देश के विकास को रोकना होगा प्रतिभा पलायन: हरीकान्त

 मुकेश भारद्वाज,अलीगढ़- कलेन्डर वर्ष के आरम्भ पर तथास्तु ज्योतिष संस्थान एवं कारण निवारण केन्द्र के तत्वाधान में विद्या मार्ग विष्णुपुरी स्थित संस्थान कार्यालय पर हवन, वैदिक विचार गोष्ठी का आयोजन सागंवेद विद्यालय नरवर के प्राचार्य महेश प्रकाश शर्मा के मार्गदर्शन में हुआ।प्रथम वेला में आचार्य लव कुश शास्त्री, पुनीत शास्त्री, ब्रजेश शास्त्री, अनुराग शास्त्री, मोनू शास्त्री, विशाल शास्त्री, धमेन्द्र शास्त्री, दीपक शास्त्री ने मुख्य यजमान शहर विधायक संजीव राजा, विजय गुप्ता, मनोज जैन आदि से शहर की आर्थिक व्यवस्था, विकास व अमन शान्ति कामना के साथ विभिन्न देवी देवताओं का आवाहन कर हवन में आहुतिया दिलायी। इनके साथ भारी मात्राओं में मौजूद भक्तों ने भी आपदाओं से मुक्ती हेतु आहुतिया दी। तदोप्रान महामडंलेश्वर स्वामी हरीकान्त जी महाराज के आथित्व में सम्पन्न हुई गोष्ठी में वृन्दावन के मर्मज्ञ कथा वाचन शुनील कोशल महाराज ने कहा कि नाशा ने जो उन्न्ति की है। वह भारत के जन्में नागरिकों के कारण हुई है। हम अपने देश की चीजों पर गर्व नहीं करते है। जबकि करना चाहिए संस्कृत एक ऐसी भाषा है जो अतंरिक्ष तक पॅहुची है। जिस देश की पहचार सन्तो और भाईचारे के कारण हुई आज हम उसी को नकार रहे है। इसी क्रम में महामडंलेश्वर हरीकान्त जी महाराज ने कहा कि भारत सदियों से विकासशील देश रहा है। और आज भी है। लेकिन राजनैतिकज्ञों के चलते विकास की गति धीमी हो गई है। आज सम्पूर्ण विश्व सर्वोच्च पदों पर भारतीय है। कारण देश से प्रतिभा पलायन। अगर देश को पूर्व की भाॅति सोने की चिड़िया जो लोग देखना चाहते है। उन्हें प्रतिभा पलायन रोकना होंगा।इस अवसर पर महापौर मों0 फुरकान अहमद, पवन कुमार वाष्र्णेय, अतुल सिंह, रामकुमार शर्मा, सुनील सिंह, राजीव अग्रवाल, दिव्य वाष्र्णेय, अवदेश वाष्र्णेय, सहित भारी मात्रा में सस्थान से जुड़ महिला पुरूष बच्चे सामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!