Home > Hathras > आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को सीबीएसई ने नवीन पाठ्यक्रम में जोड़ा

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को सीबीएसई ने नवीन पाठ्यक्रम में जोड़ा

Neeraj Chakrpani 
हाथरस- केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के निर्देशानुसार सीईडी फाउंडेशन के तत्वावधान में १३ एवं १४ अप्रैल को शिक्षक एवं छात्रों हेतु दिल्ली में ए. आई. की कार्यशाला आयोजित की गयी।

कार्यशाला में ए. आई. (कृत्रिम बुद्धि) एक नया विषय है जिसे सी.बी.एस.ई. ने कक्षा ८वीं से १२वीं तक के बच्चो के लिए अपने पाठ्यक्रम में प्रारंभिक विषय हेतु प्रस्तावित किया है। सत्र २०१८-१९ से कक्षा ९ के छात्र/छात्राएँ इसे वैकल्पिक विषय के रूप मे चुन सकते हैं। सीईडी फाउंडेशन जो प्राचार्यो की एक इकाई है समय-समय पर विभिन्न विषयो पर प्रशिक्षण एवं सटीक आंकलन पर कार्यशालाएं आयोजित करती हैं।
प्रसिद्ध शिक्षाविद प्रो. एम. एम पंत जो कि इग्नू के प्रो- वाईस चांसलर हैं के द्वारा ए. आई. पर शिक्षक एवं बच्चों को ए.आई. का महत्त्व एवं ए.आई. का आउटकम तथा क्या इस विषय के द्वारा बच्चे अपने भविष्य का निर्धारण कर सकते हैं आदि शीर्षकों के आधार पर कार्यशाला में चर्चा की गयी। इसके अतिरिक्त तकनीकि के साथ साथ ए. आई. को हम दैनिक उपयोग में कैसे ला सकते हैं इस विषय पर भी विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया गया। इस कार्यशाला में दिल्ली एन.सी.आर. क्षेत्र से लगभग २०० बच्चों ने भाग लिया। काफी बच्चों ने इस विषय को चुनने हेतु अपनी रूचि दिखाई।
दून पब्लिक स्कूल के ११ बच्चों ने इस कार्यशाला में भाग लिया। इसमें १०वी से आरव, मोहित, गर्व, राज, जय, जितेश, सिमरन, कुनाल तथा कक्षा ९वीं से इशांत, अंशिका और तनिष्का मौजूद थे। इसके अतिरिक्त इस विषय पर ५० शिक्षकों को भी प्रशिक्षित किया गया। दून पब्लिक स्कूल से शिक्षक शुभम गर्ग ने दो सत्रों में इस प्रशिक्षण को प्राप्त कर ए. आई. मास्टर ट्रेनर का प्रमाण पत्र प्राप्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!