Home > Hathras > सभी दुष्टों का संहार करती है मां कली-राजा जी

सभी दुष्टों का संहार करती है मां कली-राजा जी

Neeraj Chakrpani 
सासनी। मां काली सभी भक्तों की मनोकामनाओं को पूरी करती हैं बस भक्त का अंतःकरण शुद्ध होना चाहिए। इसी प्रकार जो भक्त उन्हें अर्पित करता है उसे भी वह सहर्ष ग्रहण करती हैं बस भक्त का भाव सही होना चाहिए। क्यों कि माता केवल भक्त के भाव की ही भूखी है। मां काली दुष्टों के संहार और भक्तों की रक्षा करने के लिए समय-समय पर अवतार लेती रहती है।
यह विचार श्री रामनवमी के मौके पर कस्बा में मां काली शोभायात्रा के दौरान समाजसेवी निर्देश वाष्र्णेय, राकेश राजाजी ने संयुक्त रूप से प्रकट किय। शोभायात्रा मेें भक्तांे ने बढ-चढकर हिस्सा लिया। श्री काली शोभायात्रा का शुभारंभ वेद प्रकाश बगीची से आचार्यों द्वारा वेदमंत्रोंच्चारण के साथ मां काली पूजा अर्चना के सा थ किया गया। जिसमें काली का स्वरूप कृष्णा ने धारण किया। जो अपने तलवारवाजी के पैंदते रिखाते हुए शोभायात्रा में सब्जी मंडी, बडे श्री हनुमान मंदिर, बस स्टैण्ड, शहीद पार्क, गांधी चैक, अयोध्या चैक, ठंडी सडक, तथा बाजार के मुख्य मार्गों से होते हुए श्री रामलीला मैदान पहुंची। यहां मां काली को अल्प विश्राम कराया गया। जहां से पुनः यात्रा को शुरू किया गया और शहीद पार्क पर समापन किया गया। समापन के साथ प्रसाद वितरण तथा भजन कीर्तन किया गया। इस दौरान सैकडों भक्तों के साथ काली मेला कमेटी के पदाधिकारी मौजूद रहे। इसी क्रम में गांव सिंघर्र में मां काली शोभायात्रा निकाली गई। जो गांव के विभिन्न मोहल्लों में होते हुए पथवारी मंदिर पर समापन किया गया। काली शोभायात्रा का उद्घाटन सहकारी संघ अध्यक्ष व भाजपा मंडल उपाध्यक्ष कोमल सिंह तोमर ने फीता काटकर एवं मां काली पूजन कर किया। इस दौरान ग्रामीणों ने मां काली की आरती उतारी और पुष्प वर्षाकर जोशीला स्वागत किया।..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!