Home > Breaking News > हाथरस सीट पर फंसा पेच: प्रत्याशी घोषित नहीं सांसद दिवाकर, डा. रावल, प्रधान, संध्या के नाम रेस में

हाथरस सीट पर फंसा पेच: प्रत्याशी घोषित नहीं सांसद दिवाकर, डा. रावल, प्रधान, संध्या के नाम रेस में

Neeraj Chakrpani 
हाथरस- हाथरस लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी में सबसे ज्यादा दावेदारों की फेहरिस्त है और सभी दावेदार अपने-अपने नामों को लेकर दावेदारी जता रहे हैं लेकिन अभी तक किसी के भी नाम पर स्थिति साफ नहीं है तथा नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और 26 मार्च नामांकन का अंतिम दिन है लेकिन अभी तक भाजपा प्रत्याशी घोषित नहीं है। चर्चायें हैं कि भाजपा नेतृत्व द्वारा हाथरस लोकसभा सीट पर परिवर्तन किये जाने की संभावनायें हैं लेकिन भाजपा नेतृत्व द्वारा अभी तक आरक्षित सीटों पर प्रत्याशियों के किये गये ऐलान को देखा जाये तो ज्यादातर सीटों पर उन्हीं पुराने चेहरों पर दांव खेला गया है। पार्टी कार्यकर्ताओं में इस बात की भी जोरों से चर्चायें हैं परिवर्तन निश्चित है?
केन्द्र में सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी द्वारा आज लोकसभा चुनावों के लिए देश भर में उतारे जा रहे उम्मीदवारों के क्रम में आज भाजपा द्वारा अपनी पांचवी प्रेस नोट जारी कर दी गई है लेकिन अभी हाथरस सीट पर पेच फंसा हुआ है और आज की सूची में भी अन्य तीन आरक्षित लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिये गये हैं लेकिन हाथरस पर सस्पेंस अभी बरकरार है। हालांकि मुकाबले में वर्तमान स्थानीय सांसद राजेश दिवाकर, डा. चन्द्रशेखर रावल, पूर्व केन्द्रीय मंत्री अशोक प्रधान एवं रमेश चन्द्र आर्य की पुत्रवधू श्रीमती संध्या आर्य का नाम काफी चर्चाओं में है।
सूत्र बताते हैं भाजपा नेतृत्व द्वारा हाथरस लोकसभा सीट पर प्रत्याशी के नाम को लेकर काफी विचार व मंथन किया जा रहा है जिसके कारण अभी तक प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं हो सका है। हालांकि सूत्रों का एक तरफ यह भी कहना हैैं भाजपा नेतृत्व द्वारा पार्टी संगठन के किसी मजबूत व सक्रिय तथा जमीन से जुडे कार्यकर्ता पर दांव खेला जा सकता है और संभावना है आज देर रात तक प्रत्याशी के नाम का ऐलान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!