Home > Aligarh > राष्ट्रीय मार्ग में रोजाना लगता है जाम  तीस किमी जाम में फंसे मरीज की हुयी मौत 

राष्ट्रीय मार्ग में रोजाना लगता है जाम  तीस किमी जाम में फंसे मरीज की हुयी मौत 

Mahesh Avasthi 
हमीरपुर। कानपुर सागर राष्ट्रीय मार्ग में पिछले दो दिनों से रोजान जाम लगता है जो कि 2 घन्टे से 35 घन्टे तक चला । इस जाम में बड़ी संख्या में ट्रक , बस और चार पहिया वाहन फंसे रहे जिससे रमेड़ी निवासी भूपेन्द्र द्विवेदी की कानपुर इलाज के लिए ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गयी। वहीं कई शादियां निर्धारित तिथि के बचाए दूसरे दिन हो पायीं। इस मार्ग में अब जाम लगना आम बात हो गयी हैं पिछले तीन दिनों से लगातार घन्टो जाम लगता है। बताते हेैं कि मनकी और कालपी के पुल के बन्द होने से भारी वाहन अब हमीरपुर के रास्ते कानपुर जा रहे हैं। उधर महोबा बांदा और मध्य प्रदेश से आने वाले वाहनों के कारण वाहनों की संख्या बढ़ने से जाम लगना आम बात हो गयी है जिसमें रोडवेज बस भी फंस जाती हैं। यमुना पुल पर बीती रात दो डम्फर रात दो बजे आमने सामने से टकरा गये जिसके कारण 20 किलोमीटर लम्बा जाम लगा जो दोपहर बाद खुल सका । इस दुर्घटना में दोनों डम्फर चालक गम्भीर रूप से घायल हैं उधर थाना सजेती के अलियापुर टोल प्लाजा से हाईवे पर आवागमन ठप्प है। लखनऊ , कानपुर से आने वाले अखबार की आपूर्ति भी प्रभावित हुयी है। बेतवा और यमुना के पुल बहुत मजबूत नहीं है जिनमें बड़ी संख्या में ट्रक मौरंग और गिटटी से लदे खड़े हो जाते हैं परिणामस्वरूप ये पुल कभी भी दुर्घटनाग्रस्त हो सकते हैं और बड़ा हादशा होगा । कुरारा क्षेत्र के मनकी गांव के पास यमुना नदी पर बना पुल भी आवागमन के लिए रोक दिया गया है। जाम में एम्बुलेन्स वाहन भी फंस जाते हैं जिनका निकलना नामुमकिन रहता है। सुमेरपुर, मौदहा और कुरारा क्षेत्र में तमाम बारातें जाम में फंसी रही ये लोग अगले दिन गन्तव्य स्थल पर पहुंचे तब शादी की रस्में निभायी जा सकीं। वाहनों का जाम खुलने में टेªफिक पुलिस और परिवहन विभाग नाकारा साबित हुये हैं। जनता के प्रयासों से ही जाम खुलता है । इन दोनों विभागों के कर्मचारी कहीं दिखायी नहीं पड़ती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!