Home > Hathras > मैं ना रालोद का पदाधिकारी और ना ही मेरी आस्था-भगवान सिंह

मैं ना रालोद का पदाधिकारी और ना ही मेरी आस्था-भगवान सिंह

नीरज चक्रपाणि,हाथरस- मेरा राष्ट्रीय लोकदल से कोई लेना-देना नहीं है और ना ही मेरी रालोद में कोई आस्था है तथा मेरे बारे में छपवाये गये भ्रामक समाचार नितान्त गलत व असत्य है और मैं तो भाजपा का कार्यकर्ता हूं।उक्त बातें भाजपा कार्यकर्ता के तौर पर भगवान सिंह भारती ने कही हैं। उन्होंने कहा है कि समाचार पत्रों में छपा है कि भगवान सिंह भारती को जिला उपाध्यक्ष एवं राष्ट्रीय लोकदल से बर्खास्त सम्बंधी समाचार नितान्त भ्रामक एवं असत्य है जबकि मेरा राष्ट्रीय लोकदल से कोई लेना-देना नहीं रहा है एवं मैं लोकदल में किसी भी पद पर नहीं रहा हूं जबकि सत्य यह है कि विधान सभा चुनाव से पूर्व मैंने भाजपा की सदस्यता ली थी तथा उसके उपरांत मैंने भाजपा से इस्तीफा नहीं दिया। समय-समय पर भाजपा के कार्यक्रमों में शामिल रहा। वर्तमान में नगर पालिका के चुनाव में भी भाजपा के लिये ही कार्य किया। मैं भाजपा का कार्यकर्ता हूं। मेरी आस्था कभी भी राष्ट्रीय लोकदल में नहीं रही ना ही मैं राष्ट्रीय लोकदल में कभी शामिल हुआ। पदाधिकारी होने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!