Home > Aligarh > क्षेत्र के विकास में शिक्षा का अहम योगदान

क्षेत्र के विकास में शिक्षा का अहम योगदान

विधालय के सौन्दर्यीकरण का बीएसए ने किया शुभारम्भ
Rajeev Guatam 
खैर। स्थानीय मौहल्ला नई बस्ती स्थित खैर नंबर एक प्राथमिक विद्यालय में रावत परिवार द्वारा निजी खर्च से विधालय के सौन्दर्यीकरण के तहत बनवाये गये कमरा, बरामदा व शौचालय का बीएसए लक्ष्मीकांत पांडेय व चेयरमैन संजीव अग्रवाल नेे लोकार्पण किया। रावत परिवार द्वारा बीएसए, चेयरमैन, पूर्व चेयरमैन, सभासद व सेवानिवृत प्रधानाध्यापक को स्मृति चिहृन व शाॅल उडाकर सम्मानित किया।
रविवार को नई बस्ती स्थित खैर नंबर एक प्राथमिक विद्यालय के सौन्दर्यीकरण के लोकार्पण के वाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये बीएसए लक्ष्मीकान्त पांडेय ने कहा कि आदि काल से विधार्थी गुरुओं का सम्मान करते चले आ रहे है तो गुरूजनों का भी दायित्व बनता है कि वह विधार्थियों को मन लगाकर पढाये तथा उन्हें अपने पैरों पर खडा होने योग्य बनायें। शिक्षक अगर मन में ठान ले कि आज विधार्थियों को प्रकाश युक्त व ज्ञानवान बनाना है तो विधार्थियों को सफलता की ओर बढने से कोई नही रोक सकता है। उन्होने शिक्षकों से आब्हान कि वह घर के कामकाज के साथ साथ विधालयों में भी मन लगाकर पढायें। विधालय के बच्चे पढ लिखकर घर परिवार व गुरूजनों का नाम रोशन करेगें। उन्होने कहा कि अमेरिका जैसे विकसित देश में अधिकांशतः बच्चे सरकारी विधालयों में पढलिख कर देश की सेवा में योगदान देते है। केन्द्र व प्रदेश की सरकारें शिक्षा और स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दे रही है। तो आवश्यकता केवल विधार्थियों को मन लगाकर पढाने की है। कार्यक्रम में एनसीसी स्कूल के चेयरमैन चेतन्य रावत, प्रबंधक विजेन्द्र रावत, अनिल रावत, राजीव रावत, रिषी रावत व पंकज रावत ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर कार्यक्रम के प्रेरणास्रोत केशवदेव शर्मा, पूर्व चेयरमैन कालीचरन विकल, रानू शर्मा, प्रधानाध्यापिका सुषमा शर्मा, अर्चना रावत, ज्योतिस्ना शर्मा, नीलम पचैरी, पिंकी शर्मा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!