Home > Breaking News > वर्ष 2013 में आगरा से आते वक्त पत्रकार से हुई लूट के बाद फैसले करने को बना रहे दबाव लुटेरे

वर्ष 2013 में आगरा से आते वक्त पत्रकार से हुई लूट के बाद फैसले करने को बना रहे दबाव लुटेरे

Neeraj Chakrpani 
सासनी। वर्ष 2013 में आगरा से आते वक्त पत्रकार से हुई लूट के बाद पुलिस द्वारा पकडे गये अपराधियो लूट का सामान बरामद होने के बाद मामला न्यायालय में पहुंच गया। जहां पीडित को अपराधियों से फैसला करने को दबाव बनाया जा रहा हैं वहीं फैसला करने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है। इसकी शिकायत पीडित ने कोतवाली में कीहै।
गुरूवार को दर्ज शिकायत में पीडित मनोज दीक्षित पुत्र जगदीश प्रसाद दीक्षित निवासी गडउआ ने कहा है कि उसके साथ सन 2013 में आगरा से गांव जाते वक्त लूट की धटना हुई थी। जिसके बाद बदमाशों को पकड लिया था। पकडे गये बदमाशों में कन्हैया पुत्र बनवारी निवासी नानऊ रोड विकास पुत्र साहब सिंह इगलास रोड पानी की टंकी के नाम सामने आए थे। पुलिस ने इनसे लूट का सामान भी बरामद किया था। उसके बाद मामला न्यायालय में पहुंच गया। जहां सीजेएम न्यायालय से अभियुक्त जमानत पर छूट गये। न्यायालय में मनोज दीक्षित की गवाही होनी है। इसके लिए उक्त बदमाश नाजायज तरीके से फैसला करने का दबाव बना रहे हैं फैसला न करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे है। पीडित ने कोतवाली मे ंअपनी जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए तहरीर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!