Home > Aligarh > कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने किया फ्रैंक एण्ड डेबी इस्लम मैनेजमेंट काॅम्पलेक्स में बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के तत्वाधान में इंटरप्रेन्योरशिप एण्ड इंक्यूबेशन सेंटर का उद्घाटन

कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने किया फ्रैंक एण्ड डेबी इस्लम मैनेजमेंट काॅम्पलेक्स में बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के तत्वाधान में इंटरप्रेन्योरशिप एण्ड इंक्यूबेशन सेंटर का उद्घाटन

अलीगढ़ 10 अक्टूबरः अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी के कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने आज फ्रैंक एण्ड डेबी इस्लम मैनेजमेंट काॅम्पलेक्स में बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के तत्वाधान में इंटरप्रेन्योरशिप एण्ड इंक्यूबेशन सेंटर का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में प्रो. मंसूर ने कहा कि सरकारी नौकरियों में कमी के दृष्टिगत यह आवश्यक हो गया है कि शिक्षित युवा वर्ग अपनी औद्योगिक एवं व्यवसायिक क्षमता को बढ़ायें जिससे न केवल उन्हें लाभ होगा बल्कि इससे देश की आर्थिक संपन्नता में भी बढ़ोत्तरी होगी। उन्होंने कहा कि इंटरप्रोन्योरशिप की योग्यता एवं क्षमता युवाओं में प्रचुर मात्रा में होती है, केवल उसे व्यवहारिक बनाने की आवश्यकता है। इससे देश में अन्य वर्गों के लिये नोकरियों की संभावनाऐं भी प्रबल होंगी।

प्रख्यात व्वयसायी एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डाॅ. एमवी कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि युवाओं में व्यवसायिक एवं सृजनात्मक योग्यताओं को बढ़ावा देने के लिये विभिन्न स्तरों पर कई नीतियाॅ बनायी गयी हैं। जिनसे नौकरियों के नये अवसर पैदा होंगे।

मुख्य भाषण प्रस्तुत करते हुए कोरडोवा पब्लिकेशंस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक श्री जिया उल इस्लाम शेरवानी ने कहा कि इंटरप्रेन्योरशिप तथा इन्नोवेशन से स्टार्ट अप्स को बढ़ावा मिलेगा और युवाओं को नोकरी के बजाय अपना व्यवसाय प्रारंभ करने का अवसर प्राप्त होगा।

प्रो. यूबी नंद गोपाल ने कहा कि व्यवसायिक क्षेत्र में रिसर्च एण्ड डवलपमेंट को मोलिक महत्व प्राप्त है तथा इससे पैदावार तथा सेवाओं में नई संभावनाओं का विकास होता है।

अतिथियों का स्वागत करते हुए बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के अध्यक्ष प्रो. परवेज तालिब ने कहा कि व्यवसायिक उदगमों के लिये रिसर्च एण्ड डवलपमेंट के साथ ही इन्नोवेशन भी अनिवार्य है। जिससे आर्थिक विकास की नई संभावनाऐं उत्पन्न होती हैं। उन्होंने कहा कि इस नये मैनेजमेंट का निर्माण अमुवि के पूर्व छात्र एवं भारतीय मूल के अमरीकी व्यवसायी डाॅ. फ्रेंक एफ इस्लाम के महत्वपूर्ण योगदान से हुआ है तथा इस इंटरप्रेन्योरशिप एण्ड इंक्यूबेशन सेंटर का नामकरण डाॅ. फ्रेंक इस्लाम के आगामी अमुवि आगमन पर किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!