Home > Aligarh > पूर्व सांसद एवं पूर्व विधायक का फूका पुतला

पूर्व सांसद एवं पूर्व विधायक का फूका पुतला

 

अलीगढ 23 सितम्बर। आज अलीगढ पुलिस के समर्थन में एक शांति मार्च स्टेट बैंक तिराहे से सामाजिक कार्यकर्ता घनश्याम चैहान के नेतृत्व में निकाला गया जिसमें सैकड़ों लोग शामिल हुये। उसके बाद सेन्टर पाइंट चैराहे पर पूर्व सांसद चै बिजेन्द्र सिंह एवं पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खां का पुतला दहन किया। त्त्पश्चात सभी लोगों ने सिविल लाइन थाने में जाकर चै बिजेन्द्र सिंह एवं पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खां के खिलाफ तहरीर दी।मार्च को सम्बोधित करते हुये सामाजिक कार्यकर्ता घनश्याम चैहान ने कहा कि हरदुआगंज में 20 सितम्बर को जो पुलिस से बदमाशों की मुठभेड़ हुयी और उसमें कई बदमाश मारे गये। अलीगढ पुलिस ने पुलिस कप्तान अजय साहनी के नेतृत्व में जो यह बहादुरी भरा कार्य किया है उसके लिए हम अलीगढ पुलिस का स्वागत करते हैं। इन बदमाशों कई किसानों और साधुओं की हत्या की थी। ये लोग साधुओं की हत्या करके भाजपा की योगी सरकार को कलंकित कर रहे थे। आज हमारे पूर्व सांसद चै बिजेन्द्र सिंह एवं पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खां की अलीगढ में राजनीति बिल्कुल खत्म हो गयी है इसलिए वे बौखला गये हैं। और इस मुठभेंड़ के मुद्दे पर बदमाशों के परिवारीजनों के पक्ष में आकर अपनी राजनैतिक रोटीयां सेंकने में लगे हैं। यह दोनों लोग मानसिक रूप से दीवालिया हो चुके हैं और अलीगढ पुलिस की इस मुठभेड़ पर अुगंलियां उठा रहे हैं। जहां अलीगढ पुलिस का सम्मान करना चाहिए वहां उनसे मुठभेड कोे लेकर सवाल जवाब कर रहे हैं और पुलिस की ईमानदारी और कार्यकुशलता पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हें। इससे पुलिस का मनोबल गिरेगा। सुशील सिंह गांधाी ने कहा कि पूर्व सांसद चै बिजेन्द्र सिंह एवं पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खां के पास भाजपा सरकार के खिलाफ बोलने के लिए कोई मुद्दा नहीं बचा है तो मुठभेड़ पर ही सवाल उठा रहे हैं। इन दोनों नेताआंे को जनता ने नकार दिया यह सच्चाई यह दोनों लोग हजम नहीं कर पा रहे हैं। और उल्टीसीदी बयानबाजी करके मीडिया की सुर्खियों में बने रहकर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं। सेन्टर पाइन्ट चैराहे पर अलीगढ पुलिस जिन्दाबाद एवं चै बिजेन्द्र सिंह एवं जमीरउल्लाह खां के मुर्दाबाद के नारे लगाये गये। मार्च में धनश्याम चैहान, कृपाल चैहान, सुशील सिंह गांधी, सुनील कुमार, गौरव ठाकुर, सुधीर सिंह, जुबेर-बिन-इकबाल, समीर, रोहित, अरिहन्त सिंह, अली आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!