Home > Aligarh > अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी द्वारा हिन्दी सप्ताह कार्यक्रम आयोजित

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी द्वारा हिन्दी सप्ताह कार्यक्रम आयोजित

अलीगढ़ 14 सितम्बरः राजभाषा (हिंदी) कार्यान्वयन समिति, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित हिन्दी सप्ताह कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करते हुए कुलपति एवं अध्यक्ष राजभाषा हिन्दी कार्यान्वयन समिति एएमयू ने कहा कि देश के अधिकांश हिस्सों में हिंदी बोली जाती है और इसको और अधिक सरल बनाकर बड़े वर्ग को इससे जोड़ा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि भारत विभिन्न संस्कृतियों एवं भाषाओं का देश है और यहाॅ 22 भाषाओं को राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त है। जो यहाॅ की सांस्कृतिक व राष्ट्रीय एकता की मिसाल है। जो विश्व के अन्य किसी देश में देखने को नहीं मिलती। कुलपति ने कहा कि इस बात के प्रयास होने चाहिए कि देश में रहने वाले नागरिक एक दूसरे की भाषा सीखने के प्रति आकर्षित हों। प्रो. मंसूर ने कहा कि एएमयू को यह गौरव प्राप्त है कि यहाॅ अनेक भाषायें पढ़ाई जाती हैं और संस्कृत व हिन्दी का शिक्षण कार्य आरंभ से ही चल रहा है।

प्रो. मंसूर ने हिन्दी के प्रचार प्रसार व विस्तार के लिए हिन्दी विभाग द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि हिन्दी सप्ताह के आयोजन से जहाॅ जागरूकता आएगी वहीं छात्रों को इससे लाभ भी होगा।

मुख्य वक्ता भारत सरकार के केन्द्रीय हिन्दी निदेशालय के पूर्व निदेशक प्रोफेसर गंगा प्रसाद विमल ने कहा कि एएमयू ने हिन्दी भाषा के प्रचार में सकारात्मक भूमिका निभाई है और वर्तमान में 105 से अधिक विदेशी विश्वविद्यालयों में हिन्दी भाषा पढ़ाई जा रही है और हिन्दी में शोध कार्य हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि भारत एक प्रमुख आर्थिक शक्ति बन रहा है और विश्व के कारपोरेट जगत को निवेश के लिए आकर्षित कर रहा है जिसके चलते कई देशों ने अपने विश्वविद्यालयों के पाठ्यक्रमों में हिन्दी पाठ्यक्रम शुरू कर दिये हैं।

उन्होंने कहा कि हालांकि हिन्दी को विश्व स्तर पर लोकप्रिय बनाने के अनेक प्रयास चल रहे हैं लेकिन इसको एक पैन भारतीय भाषा बनाकर और अधिक लोकप्रिय बनाया जा सकता है।

राजभाषा (हिन्दी) कार्यान्वयन समिति के सचिव और हिन्दी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर अब्दुल अलीम ने स्वागत भाषण में कहा कि हिन्दी भाषा के प्रचार प्रसार के लिए वर्तमान कुलपति द्वारा एक प्रकोष्ठ स्थापित किया गया है। जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं।

प्रोफेसर शंभुनाथ तिवारी ने कार्यक्रम का संचालन व धन्यवाद ज्ञापन के अलावा केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर के संदेश को पढ़कर सुनाया। कार्यक्रम में कार्यवाहक डीन प्रो. मसूद अनवर अल्वी, प्रो. शाहुल हमीद, डाॅ. देवेन्द्र गुप्ता व विभिन्न विभागों के अध्यक्ष, शिक्षक व छात्र मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!