Home > Breaking News > विराट कुश्ती दंगल में भारत केसरी ने हरियाणा केसरी को पछाड़ा

विराट कुश्ती दंगल में भारत केसरी ने हरियाणा केसरी को पछाड़ा

हाथरस-6 सितम्बर। आगरा अलीगढ़ रोड बाईपास लहरा स्थित श्री बांकेबिहारी मंदिर पर आयोजित 5 दिवसीय चतुर्थ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव मेला के अवसर पर विशाल ऐतिहासिक कुश्ती दंगल का आयोजन किया गया। दंगल में आसपास के जिले के अलावा भारत केसरी व हिन्द केसरी आदि पहलवानों ने अपनी मल्ल विद्या का प्रदर्शन कर जनता को रोमांचित किया और जमकर वाही-वाही तालियां बटोरीं। विशाल दंगल में आखिरी कुश्ती भारत केसरी व हरियाणा केसरी पहलवानों के बीच आयोजित की गई और भारत केसरी पहलवान विजयी रहे। दंगल में जनता का उमड़ा हुजूम देखने लायक था।

लहरा बाईपास स्थित श्री बांकेबिहारी जी मंदिर पर आयोजित चतुर्थ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मेला महोत्सव के अवसर पर श्री बांकेबिहारी जी महाराज के भव्य फूल बंगला व अलौकिक छप्पन भोग के दर्शन एवं श्रृंगार कराये गये। साथ ही विराट ऐतिहासिक कुश्ती दंगल का आयोजन किया गया जिसमें हाथरस के अलावा अलीगढ़, मथुरा, आगरा, दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़ आदि सहित अन्य तमाम स्थानों के पहलवानों ने अपनी मल्ल विद्या का प्रदर्शन किया और जौहर दिखाये।

मंदिर प्रबंधक एवं युवा प्रमुख समाजसेवी दंगल संरक्षक रवि चैहान भट्टा वाले, दंगल संयोजक उदयवीर पहलवान मई वालों ने ठाकुर श्री बिहारी जी की विधिवत पूजा अर्चन कर दंगल का शुभारंभ कराया तथा दंगल में 11 सौ, 21 सौ, 31 सौ, 51 सौ रूपये की दर्जनों कुश्तियों के अलावा 31 हजार रूपये इनाम की मुकेश पहलवान कुमरपुर, पवन पहलवान अखाड़ा त्रिरवाया मथुरा के बीच लड़ी गई जो बराबर रही। 51 हजार रूपये की कुश्ती वीरेन्द्र पहलवान गोपाल आश्रम मथुरा व कुल्ला पहलवान अखाड़ा भूतेश्वर मथुरा के बीच बराबर रही। 51 हजार रूपये की कुश्ती राजस्थान केसरी पहलवान मुरारी अखाड़ा गोपाल आश्रम मथुरा व संजय पहलवान चंडीगढ़ के बीच लड़ी गई और काफी जोर आजमायश के बाद मुरारी पहलवान राजस्थान केसरी विजयी रहे।

विराट कुश्ती दंगल में 1 लाख रूपये इनाम की कुश्ती दिल्ली केसरी पहलवान राजीव तौमर अखाड़ा राजीव राणा व ब्रज केसरी हरिओम पहलवान अखाड़ा त्रिरवाया मथुरा के बीच रोमांचक तरीके लड़ी गई लेकिन बराबरी पर छूटी। दंगल की अंतिम कुश्ती रात करीब 10 बजे 1 लाख 51 हजार रूपये, 1 बुर्ज, 1 मैडल के इनाम की भारत केसरी पहलवान निशान्त बद्री अखाड़ा दिल्ली व हरियाणा केसरी पहलवान ऋषभ दलाल अखाड़ा रोहतक हरियाणा के बीच लड़ी गई और दोनों पहलवानों के बीच करीब आधा घंटा तक जोर आजमाइश चली और जनता को जहां जनता को रोमांचक जौहर देखने को मिले वहीं भारत केसरी पहलवान निशान्त ने अपनी मल्ल विद्या के इस्लम से हरियाणा केसरी को पटखनी देते हुये विजयश्री हासिल करली।

दंगल में भारत केसरी पहलवान हरिकेश पहलवान को दंगल संरक्षक रवि चैहान भट्टा वाले व दंगल संयोजक उदयवीर पहलवान द्वारा 51 हजार रूपये व 1 गुर्ज, मैडल व पट्टिका आदि देकर सम्मानित किया गया जबकि अन्य सभी पहलवानों को भी पुरूस्कार आदि देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर विशाल दंगल में पूर्व ब्लॉक प्रमुख व जिला पंचायत सदस्य रामेश्वर उपाध्याय ने भी पहलवानों के हाथ मिलवाये और उनकी हौंसला अफजाई की। कार्यक्रम के आयोजक रवि चैहान व चै. उदयवीर सिंह पहलवान ने रामेश्वर उपाध्याय का फूल माला पहना कर, पीताम्बर उढ़ाकर, गौमाता की प्रतिमा व गदा भेंट कर स्वागत व सम्मान किया। दंगल में युवा भाजपा नेता अनुज चैधरी पदू वालों का भी रवि चैहान द्वारा स्वागत व सम्मान किया गया।

वहीं दंगल के बाद देर रात रसिया दंगल का भी आयोजन किया गया जहां रसिया प्रेमियों ने रसिया सुनकर रसियों का आनंद लिया। रसिया दंगल का उद्घाटन युवा समाजसेवी रवि चैहान भट्टे वालों द्वारा फीता काटकर किया गया तथा रसिया दंगल में मुकाबला अखाड़ा रामवीर सिंह व करन अखाड़ा के बीच हुआ। जहां लोगों ने रसिया सुनकर आनंद लिया और रसिया रात से शुरू होकर सुबह तक दौर चला।

इस मौके पर केशव पहलवान, नवल पहलवान, कृष्णा प्रधान, वीरेंद्र पहलवान, महेश पहलवान हतीसा, संदीप तोमर, सत्यपाल सिंह चैहान, भगवान सिंह चैहान, रघुराज सिंह चैहान, विजय कुमार, सोनू चैहान, छोटू उपाध्याय, छोटू राणा, अमित लाला, गन्नू ठाकुर, हरीश आँधीवाल, मनोज वाष्र्णेय कातिब, करुआ पहलवान, मोहित राणा, टोनी ठाकुर, सोनू महाकाल, गौड़ साहब, मनीष वर्मा, विभोर जैन, सौरभ जैन, कमल शर्मा, होशियार सिंह, अतुल जादौन आदि तमाम लोग मौजूद थे। दंगल में रैफरीशिप डा. कन्हैया बाबूजी व नवल उस्ताद द्वारा की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!