Home > Aligarh > अन्धविश्वास और सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध एसएमबी इण्टर कॉलेज से निकली विज्ञान चेतना रैली

अन्धविश्वास और सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध एसएमबी इण्टर कॉलेज से निकली विज्ञान चेतना रैली

चंचल पोस्टर प्रतियोगिता में रही अव्वल

अलीगढ।  विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद उत्तर प्रदेश एवं जिलाधिकारी के निर्देशों के तहत जिला विज्ञान क्लब अलीगढ़ के द्वारा आज दिनांक 10 अगस्त को एसएमबी इन्टर कालेज से अवैज्ञानिक कार्यकलापों से जुड़े सामाजिक कुरीतियों, अन्धविश्वासों के विरूद्ध विज्ञान चेतना रैली का शुभारम्भ मुख्य अतिथि सेनानायक अनीस अहमद अंसारी 38 वीं वाहिनी पीएसी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा संयुक्त रूप से हरी झण्डी दिखाकर किया गया। रैली समापन के उपरान्त एसएमबी इण्टर कॉलेज में पर्यावरण संरक्षण, प्लास्टिक रोकथाम एवं अन्धविश्वास के विरूद्ध पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिक्षाविद् डा0 रक्षपाल सिंह एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 लक्ष्मीकान्त पाण्डेय ने संयुक्त रूप से मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित करके शुभारंभ किया। मुख्य अतिथि सेनानायक अनीस अहमद अंसारी ने कहा कि विज्ञान के माध्यम से समाज में फैले अन्धविश्वासों को दूर किया जा सकता है। उन्होंने बच्चों को आगे बढने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि मेहनत और लगन के साथ शिक्षा ग्रहण करें तथा वैज्ञानिक दृष्टिकोण अपनाते हुए समाज में फैले अंधविश्वास एवं सामाजिक कुरीतियों के प्रति लोगों को जागरूक करने का भी काम करें। डीआईओएस धर्मेन्द्र शर्मा ने कहा कि विज्ञान के सशक्त माध्यम द्वारा ही समाज को जागरूक किया जा सकता है इस कार्य में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका शिक्षकों एवं छात्रों की है छात्रों के द्वारा समाज में एक नयी चेतना का संचार होता है। शिक्षाविद् डा0 रक्षपाल सिंह ने छात्रों एवं शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि ज्ञान दो तरह का होता है एक पुस्तकीय तथा दूसरा व्यावहारिक। उन्होंने शिक्षकों से बच्चों को पुस्तकीय ज्ञान के साथ-साथ व्यावहारिक ज्ञान हेतु शिक्षण कार्य के साथ ही इस तरह के आयोजन कराने के कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे बच्चों के व्यावहारिक ज्ञान को बढ़ावा मिलेगा तथा वह विज्ञान एवं अंधविश्वास के प्रति जागरूक होंगे। बीएसए डा0 लक्ष्मीकान्त पाण्डेय ने कहा कि दुनिया में होने वाले हर कार्स के पीछे कोई न कोई कारण होता है, बिना किसी कारण के कोई कार्य नहीं होता इसलिये हमें किसी भी कार्य के होने का तथ्य समझकर अंधविश्वास में नहीं पड़ना चाहिये।जिला विज्ञान क्लब अलीगढ के समन्वयक राजीव कुमार अग्रवाल ने कार्यक्रम की भूमिका एवं उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विज्ञान चेतना रैली और जनमानस के बीच अलौकिक चमत्कारों पर आधारित वैज्ञानिक प्रयोगों का प्रदर्शन करके विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी का बेहतर ढ़ंग से उपयोग किये जाने के प्रति जागरूक करना ही कार्यक्रम का मुख्य उद््देश्य है।कार्यक्रम में मेरठ से आयी कु0 रोहिणी गोले ने विज्ञान के चमत्कारों का प्रदर्शन करते हुए छात्र/छात्राओं को बिना खून निकाले जीभ में त्रिशूल भेदना, पानी में आग लगाना, सादा कागज पर लेख उत्पन्न करना, बिना छीले केले के टुकड़े करना, सिर पर चाय बनाना, आदि का वैज्ञानिक प्रदर्शन कर मनोरंजन किया। इसके साथ ही छात्र/छात्राओं ने भी अपने अनुभव के आधार पर अन्धविश्वास के बारे में बताया तथा अन्धविश्वास से दूर रहने की सपथ ली। कार्यक्रम में नगर क्षेत्र के छात्र/छात्राओं एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम के दौरान हुयी पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार एक हजार रूपये नगद ईनाम कु0 चंचल टीकाराम कन्या इण्टर कॉलेज एवं सात्वना पुरस्कार के रूप में डिक्शनरी, पैन, कापी आदि निशा सैनी, आदित्य भारद्वाज, कु0 शगुन, पूजा, सिमरन, सुमन राजपूत, तान्या शर्मा, पूजा, लखन सिंह, चिन्टू उपाध्याय, दिशा, हर्षिता यादव, अनमोल कौर, प्रियांशी वार्ष्णेय, लोकेश कुमार, विकास कुमार, कृष्णा वर्मा, निशा, कुलदीप कुमार को प्रदान किये गये।कार्यक्रम को सफल बनाने में राम प्रताप सिंह, नीतिका वार्ष्णेय, रिचा माहेश्वरी, राजीव पवार, सुशील कुमार शर्मा आदि का विशेष सहयोग रहा। अन्त में सभी अतिथियों का कालेज के प्रधानाचार्या कृष्ण कुमार शर्मा ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन पीयूष दत्त शर्मा एवं राजीव अग्रवाल ने संयुक्त रूप से किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!