Home > Breaking News > ग्रामीण बैंक ने किया 48 हजार ऋणी खाताधारकों का दुर्घटना बीमा

ग्रामीण बैंक ने किया 48 हजार ऋणी खाताधारकों का दुर्घटना बीमा

नीरज चक्रपाणि,हाथरस- ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त के क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा बैंक की कल्याणकारी अतिविशिष्ट दुर्घटना बीमा योजना का शुभारंभ विकास भवन सभागार में किया गया। इसका लाभ बैंक के सभी ऋण खाता धारकों को मिलेगा।
इस अवसर पर जिलाधिकारी डॉ. रमाशंकर मौर्य ने कहा कि इससे उधारकर्ताओं की वित्तीय क्षमता में बढ़ोतरी होगी। किसी भी दुर्घटना की स्थिति में उनके परिवार के जीविकोपार्जन में राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि शासन की कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में ग्रामीण बैंक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। ऋण वितरण में भी बैंक किसान व व्यापारियों के हितों में अग्रणी भूमिका अदा कर रहा है।
ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त के क्षेत्रीय प्रबंधक एस.के. श्रीवास्तव ने कहा कि बैंक के सभी ऋण खाताधारकों के लिए आर्यावर्त दुर्घटना सह दिव्यांगता योजना का शुभारंभ किया गया है, जिससे ऋणी की मृत्यु होने की दशा में दो लाख रुपये, स्थाई विकलांगता पर दो लाख रुपये व अर्द्ध विकलांगता पर एक लाख का दुर्घटना बीमा लाभ दिया जायेगा। बैंक बीमा की प्रीमियम राशि बैंक खुद वहन करेगी। इस योजना से बैंक के 48 हजार ऋणी खाता धारक लाभांवित होंगे। बीमा सेवा प्रदान किए जाने के लिए रेलिगेयर हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी को शामिल किया गया है।
मुख्य विकास अधिकारी एसपी सिंह ने योजना के शुभारंभ को जनपद के ग्रामीण बैंक के ऋणी खाता धारकों को सौगात बताया। पीडी चंद्रशेखर शुक्ला ने कहा कि इस बीमा योजना से भविष्य में होने वाली किसी भी अनहोनी पर मृतक के परिजनों के लिए मील का पत्थर बताया। कार्यक्रम में डीडी कृषि एचएन सिंह, एलडीएम कार्तिक कुमार, ए.के.एस. चैहान, आदित्य शर्मा, एम.ए. किदवई, अमित शर्मा, राजेश वर्मा, राजीव आर्य, संजीव विश्नावत सहित सभी शाखा प्रबंधकों का सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन प्रबंधक शिवदेव श्रोती ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!