Home > Aligarh > उ.प्र. के विकास को जातिवादी राजनीति ने किया था अवरूद्ध-योगी आदित्यनाथ

उ.प्र. के विकास को जातिवादी राजनीति ने किया था अवरूद्ध-योगी आदित्यनाथ

नीरज चक्रपाणि, हाथरस-23 जुलाई। हाथरस जनपद की अपनी एक अलग पहचान है और पौराणिम समय से ही महत्व है। हाथरस की हींग का प्रदेश सरकार ब्रांडिंग व मार्केटिंग करेगी और हींग उद्यमियों को लखनऊ में सम्मानित किया जायेगा। जिले के विकास में कोई कसर नहीं छोडी जायेगी। उ.प्र. के विकास को जातिवादी राजनीति ने अवरूद्ध कर दिया था लेकिन अब ऐसा नहीं है। प्रदेश में शीघ्र ही लाखों की संख्या में पुलिस व शिक्षा विभाग में भर्तियां होंगी। युवाओं की भावनाओं से कोई खेल नहीं सकता। प्रदेश के सभी जिलों को डार्क जोन से मुक्त किया है और खारे पानी की समस्या का भी शीघ्र समाधान होगा।

उक्त बातें आज पहली बार हाथरस आये प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने बागला कालेज मैदान में आयोजित विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहीं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मैं जब हाथरस आया था तब बताया गया था कि वर्षों से यहां पर कुछ समस्यायें हैं। उन्होंने कहा कि सरकारें समस्या पैदा करने के लिए नहीं बल्कि उनका समाधान होना चाहिये। आज ओवरब्रिज निर्माण की मांग पूरी हुई है वहीं खारे पानी की समस्या से भी निजात मिलेगी और जनता को शुद्ध व मीठा जल, बिजली, सडक व स्वास्थ्य सेवायें बेहतर देने के लिए प्रयास हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस के इतिहास पर कहा कि हाथरस जिले की अपनी एक पहचान है और स्वाधीनता आन्दोलन में महाराजा महेन्द्र प्रताप सिंह से जिले को ऊंचाईयां मिलीं और दूसरे प्रख्यात साहित्यकार पदमश्री काका हाथरसी ने भी जिले को ऊंचाईयां दी हैं। उन्होंने सभी से आव्हान करते हुए कहा कि ऐसे महापुरूषों के बारे में युवाओं व आगे आने वाली पीढी को बतायें और उनका सम्मान करें। श्री योगी ने कहा कि यहां के उद्यमियों ने हींग से दुनिया में पहचान बनायी है और पूरे उ.प्र. का एकमात्र जनपद है जहां से पूरे प्रदेश में ही नहीं बल्कि देश-विदेश में भी हींग को भेजा जाता है।

श्री योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के तहत सरकार ने सभी जिलों के एक प्रोडक्ट को हिस्सा बनाया है और 10 अगस्त को लखनऊ में विशेष कार्यक्रम है जिसमें राष्ट्रपति द्वारा उद्यमियों व व्यापारियों को सम्मानित किया जायेगा और उत्पादों की सरकार ब्रांडिंग व मार्केटिंग कर रोजगार की संभावनायें सृजित करेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता लेकिन उ.प्र. के विकास को जातिवादी राजनीति ने अवरूद्ध किया था। उन्होंने कहा कि वह लोग अब फिर से विकास को अवरूद्ध करने को एडी चोटी का जोर लगा रहे हैं और उन्होंने जनता से आव्हान किया कि अब ऐसे तत्वों को अवसर न दें। उन्होंने सपा-बसपा सरकारों पर तीखा हमला करते हुए कहा कि इन दलों की सरकारों ने माफियाराज, गुण्डाराज किया था। उद्योग धंधे बंद हो गये और नौजवान पलायन करने लगे थे। सत्ता के संरक्षण में पलने वाले अपराधियों के कारण से विकास नहीं होता।

सीएम योगी ने कहा कि 16 माह की भाजपा सरकार में जीरो टाॅलरेंस पर माहौल बदला है और 5 लाख करोड का निवेश प्रदेश में हो रहा है और इससे 30 लाख युवाओं को रोजगार उपलब्ध होगा। साथ ही स्थानीय उत्पादों की ब्रांडिंग व मार्केटिंग की कार्य योजना तैयार है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में उद्यमी निवेश को तत्पर हैं और निवेश कर रहे हैं तथा उद्योगों के लगने पर अगले 3 साल में 2 करोड युवाओं को रोजगार नौकरी देंगे और आने वाले समय में उ.प्र. प्रथम श्रेणी में होगा।

उन्होंने कहा कि रोजगार के अवसर बढाने व युवाओं को प्रशिक्षित करने को स्किल डवलपमेंट सेंटर, कालेज आदि खुलेंगे। जिसकी कार्य योजना तैयार है और विकास की योजनाओं से जुडने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं का आव्हान करते हुए कहा कि आपकी भावनाओं से कोई नहीं खेल सकता है तथा पहले नौकरियों को कुछ जिलों व जातियों में सीमित कर दिया जाता था। प्रदेश में 1 लाख 62 हजार पुलिस में दरोगाओं व सिपाही की भर्ती होगी। उन्होंने कहा युवाओं के साथ भेदभाव व खिलवाड नहीं होने दिया जायेगा तथा 1 लाख 37 हजार शिक्षकों की भर्ती होनी है। अनुदेशकों के मामले को भी देख रहे हैं और शिक्षामित्रों को मूल स्थान पर ही पद स्थापना कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत अभियान में भारत को स्वस्थ बनाना है और उ.प्र. के प्रत्येक युवा को जुडना होगा। हमने प्लास्टिक पाॅलीथिन को प्रतिबंधित किया है स्थानीय उत्पादों के बढावे को माटी कला बोर्ड का गठन किया गया है जिससे गांवों में भी रोजगार बढाया जा सके और हम हर सम्भव सहयोग देंगे।

मुख्यमंत्री ने सभी से आव्हान किया कि प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करें और शहर-गांव को स्वस्थ सुन्दर बनायें तथा स्वतंत्रता दिवस का दिन संकल्प का दिवस होना चाहिये और वृक्षारोपण कार्यक्रम भी हों। 2 अक्टूबर को 150 वीं गांधी जयंती पर संकल्प लें खुले में शौच मुक्त व प्लास्टिक को हमेशा के लिए प्रतिबंध करने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में प्रदेश के सभी जिले डार्क जोन से मुक्त हैं और डार्क जोन के नाम पर किसानों का अब शोषण नहीं होगा तथा खारे पानी का समाधान को गांवों की पानी की सप्लाई पाइप लाइन से जोडने की योजना है। उन्होंने जिले में विकास की ऊंचाईयों को छुने की कामना की।

इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दीप प्रज्जवलन कर किया गया तथा मंच से रिमोट के माध्यम से 156 करोड से भी अधिक विकास योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया गया वहीं आचार्य सीपूजी महाराज के नेतृत्व में विद्धान आचार्यों द्वारा मंत्रोच्चारण व शंख बजाया गया। इन योजनाओं व विकास कार्यो में तालाब चैराहा पर ओवरब्रिज का निर्माण, घण्टाघर का सौन्दर्यीकरण, तालाब का सौन्दर्यीकरण आदि सहित 35 योजनायें शामिल हैं।

विशाल जनसभा को सदर विधायक हरीशंकर माहौर ने भी सम्बोधित किया और कहा कि आज जनता की 25 वर्ष पुरानी ओवरब्रिज की मांग पूरी हो गई। उन्होंने विद्युत विभाग में किसानों से मोटी रकम लेकर विद्युत कनैक्शन देने व किसानों के खिलाफ रिपोर्ट के मामले में कहा कि घोटाले की जांच हो रही और दोषी अफसरों पर निश्चित कार्यवाही होगी। उन्होंने सासनी की पराग डेयरी को शुरू कराने, हरि आई हास्पीटल का पुनः संचालन कराने व बुनकरों की समस्याओं के समाधान को भी मांग मुख्यमंत्री के समक्ष उठायी।

जनसभा को सम्बोधित करते हुए सांसद राजेश दिवाकर ने कहा कि कई सरकारें आयीं और गईं लेकिन ओवरब्रिज नहीं बना और उन्होंने ओवरब्रिज की मांग 11 दिसम्बर 2015 को संसद में उठायी थी तथा उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने ओवरब्रिज पर राजनीति की थी। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि इगलास तहसील के करीब 35-40 गांव हैं जो हाथरस से सटे हैं उन्हें हाथरस जनपद में ही शामिल कराया जाये जिससे लोगों को काफी दूर अलीगढ न जाना पडे। साथ ही उन्होंने हाथरस में छात्राओं के लिए इंजीनियरिंग कालेज की स्थापना की मांग की। इस दौरान सांसद ने सीएम के सम्मान में जनता से योगी-योगी के जमकर नारे लगवाये।

इस मौके पर मंच पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राज्यमंत्री/प्रीाारी मंत्री उपेन्द्र तिवारी, सांसद राजेश दिवाकर, भाजपा ब्रज क्षेत्र अध्यक्ष रजनीकान्त माहेश्वरी, विधायक हरीशंकर माहौर, सिकन्द्राराऊ विधायक वीरेन्द्र सिंह राणा, जिला प्रभारी अंजुला माहौर, जिलाध्यक्ष रामवीर सिंह परमार, पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा, अलीगढ़ जिलाध्यक्ष ठा. गोपाल सिंह मौजूद थे और इन सभी ने मुख्यमंत्री का विशाल फूलों के हार से स्वागत किया। जबकि जिलाधिकारी डा. रमाशंकर मौर्य ने मुख्यमंत्री को ठाकुर जी का छविचित्र भेंट किया। सीएम की सुरक्षा व्यवस्था के इतने तगड़े इंतजाम थे कि हर किसी को एण्ट्री नहीं थी और एडीजी, डीआईजी, डीएम, पुलिस कप्तान के अलावा तमाम अधिकारी व पुलिस फोर्स तैनात था।

इस मौके पर पूर्व सांसद डा. बंगाली सिंह, डा. उमाशंकर शर्मा लाॅर्ड, डा. अविन शर्मा, अनुज चैधरी, राजेश गुड्डू, डा. सतेन्द्र सिंह, रामवीर सिंह भैयाजी, चै. रामकुमार वर्मा, धीरेन्द्र सिंह चैहान, अनिल श्रोती, आमोद गौड़, ललित शर्मा लब्बू पण्डित, निर्मल कुमार धनगर, ब्रजेश चैहान, मुकेश कौशिक, भगवानदास माहौर, संजय सक्सैना, गौरव आर्य, मोहन पण्डित, सुनीत आर्य, अखिलेश गुप्ता, संध्या आर्य, सचेता जाॅन, दीपक वाष्र्णेय, डा. राजेश कुमार सिंह, महावीर तिवारी, विपिन लवानियां, विवेक वाष्र्णेय, विशाल गुप्ता, अंशुल सेंगर, नरेश प्रधान, डा. चन्द्रशेखर रावल, मोरमुकुट गुप्ता, मूलचन्द्र वाष्र्णेय, नीरेश जादौन, भूरा पहलवान, दिनेश शर्मा, श्याम अग्रवाल, विमल प्रधान, अशोक अग्रवाल, प्रेमबिहारी चटर्जी, आशीष रस्तोगी आदि के अलावा हजारों की भीड़ मौजूद थी। मंच का संचालन श्रीमती अनीता सेंगर द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!