Home > Aligarh > सख्ती के बाद भी इगलास में अवैध खनन पर नहीं लग रहा अंकुश

सख्ती के बाद भी इगलास में अवैध खनन पर नहीं लग रहा अंकुश

-शाम ढलते ही धरती की छाती को चीरते हैं खनन माफिया
-पुलिस व प्रशासन की मिलीभगत से होता है अवैध खनन
इगलास। प्रदेश सरकार की सख्ती पर खनन माफियाओं की मनमानी भारी पड़ रह है। अवैध खनन पर रोक लगने के बाद भी क्षेत्र में अवैध खनन पर रोक नहीं लग पा रही है। क्षेत्र में लगातार अवैध रु प से खनन किया जा रहा है। यदि मामला पुलिस की पकड़ में आ भी जाता है तो खनन माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई न होने से अवैध खनन का दौर जारी है। सख्ती के बाद भी खनन माफियाओं की मनमानी भारी होने से पुलिस-प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं।
शासन ने पूरे प्रदेश में अवैध रुप से हो रहे खनन पर रोक लगाई हुई है। खनन के लिए शासन से आवश्यक दिशा निर्देश प्रशासनिक अधिकारियों को दिए गए हैं। इसके बाद भी तहसील क्षेत्र में पुलिस व प्रशासन की अनदेखी व मिली भगत के चलते मिट्टी के अवैध खनन का कार्य धड़ल्ले से चल रहा है। खनन माफिया खुलेआम जेसीबी से मिट्टी की ट्रैक्टर-ट्राली भरकर अवैध खनन कर रहे है। पुलिस प्रशासन से शिकायत करने के बाद भी खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई न होने से उनके हौसले बुलंद है। अवैध रूप से खनन के बाद मिट्टी से लदी ट्रैक्टर ट्राली लेकर रोड पर चलने वाले ट्रैक्टर चालकों की रफ्तार इतनी तेज होती है कि अक्सर हादसे का डर बना रहता है। शिकायत करने पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पुराने आदेशों का हवाला देते हुए अपना पल्ला झाड़ लेते हैं और इन खनन माफियाओं के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की जाती है। सूत्रों की माने तो यह खनन माफिया पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को खनन करने के लिए मोटी रकम देते हैं यही बजर है कि अधिकारी शिकायतकर्ता को ही पिछले आदेशों का हवाला देते हुए कानून का पाठ पढ़ाने लग जाते हैं। खनन माफिया शाम ढलते ही धरती की छाती को चीरना शुरू कर देते हैं। अवैध खनन का कारोबार देर सांय से प्रारंभ होकर भोर होने तक चलता है। नगर के प्रबुद्ध लोगों का कहना है कि ट्रॉलियों से जो मिट्टी सड़क पर गिर जाती है, भीषण गर्मी के होने के कारण वह शाम तक दुकानदारों का जीना हराम कर देती है। इससे लोग अस्थमा, संक्रमण आदि के रोगी हो रहे हैं। स्थानीय लोगों ने अधिकारियों से गंभीर समस्या को दृष्टिगत रखते हुए प्रतिबंध के बाद हो रहे अवैध खनन पर रोक लगाने की मांग की है।

खनन के मामले में रोकने के लिए खनन अधिकारियों को आना चाहिए। पुलिस का इससे कोई लेना- देना नहीं है। सुनील कुमार वर्मा, कोतवाल इगलास

सरकार से खनन रोकने संबंधी कोई आदेश प्राप्त नहीं हुआ है। अगरआदेश प्राप्त होता है तो निश्चित कर रोका जाएगा। राम सूरत पांडे, एसडीएम इगलास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!