Home > Aligarh > स्मार्ट सिटी में अलीगढ़ में बनेगा सीवर टिटमेंट प्लांट

स्मार्ट सिटी में अलीगढ़ में बनेगा सीवर टिटमेंट प्लांट

कार्यशाला दूसरे दिन सौर उर्जा और पर्यावरण बचाव पर हुई चर्चा

अलीगढ़ :- स्मार्ट सिटी लिमिटेड की कार्यशाला दूसरे दिन भी चली। अलीगढ़ में सौर उर्जा और पर्यावरण बचाव पर हुयी चर्चा। पार्षदों ने स्मार्ट सिटी के लिये दिये जनउपयोगी सुझाव। स्मार्ट सिटी में अलीगढ़ में बनेगा सीवर टिटमेंट प्लांट। कल होगा स्मार्ट सिटी कनक्लेव का समापन-सह नोडल अधिकारीअलीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड की तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन दूसरे दिन में जारी रहा। दूसरे दिन कार्यशाला का विषय सौर उर्जा और पर्यावरण बचाव पर चर्चा के साथ-साथ क्षेत्रीय पार्षदों के सुझावों के अनुसार स्मार्ट सिटी के प्रारम्भ होने वाले कार्यो को शुरू करना रहा।कार्यशाला के प्रथम चरण में प्रातः 10 बजें से 3 बजें तक सौर उर्जा और पर्यावरण बचाव पर विस्तृत चर्चा के साथ स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अन्तर्गत अधिक से अधिक सौर उर्जा का उपयोग करने पर बल दिया गया। नेडा विभाग से फिरोज अहमद ने कार्यशाला को सम्बोधित करते हुये बताया कि आधुनिकता के दौर में सौर उर्जा का महत्व बढ़ता जा रहा है और आने वाले भविष्य को उज्जवल व प्रदूषण मुक्त बनाने के लिये अधिक से अधिक सौर उर्जा का उपयोग करना जरूरी है।कार्यशाला में जल निगम के अधिशासी अभियन्ता वीनेश कुमार ने बताया कि प्रतिदिन शहर में सीवर व नाले-नालियों का गंदा पानी जमीन में जा रहा है और हम बोरिंग आदि के माध्यम से दूषित जल का प्रयोग कर बीमारियों से ग्रसित हो रहें है उन्होनें बताया कि स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत अलीगढ़ शहर में इगलास रोड पर 45 एमएलडी क्षमता का एसटीपी(सीवर टिटमेंट प्लांट) लगाये जाने का प्रस्ताव रखा गया है ताकि सीवर आदि के पानी को कार वाशिग सहित अन्य कार्यो के लिये प्रयोग हेतु बनाया जा सके। रेलवे के डिप्टी चीफ इंजिनियर संजय गुप्ता ने ट्रेनों में बायो टायलेट की भांति शहर में इस तरह बायो टायलेट स्थापित करने का सुझाव दिया। स्मार्ट सिटी की पीएमसी टीम हैड ने बताया कि स्मार्ट सिटी में शीघ्र नमुने के तौर पर कलैक्ट्रेट व रेलवे स्टेशन पर बायो टायलेट स्थापित किये जाने का प्रस्ताव है जो शीघ्र धरातल पर आयेगा।द्वितीय हॉफ में क्षेत्रीय पार्षदों ने कार्यशाला में प्रतिभाग किया। कार्यशाला में पार्षद श्रवीरेन्द्र सिंह ने कहा कि हैदाराबाद व छत्तीसगढ़ में रहकर अलीगढ़ को स्मार्ट सिटी नहीं बनाया जा सकता बल्कि गली-गली में जाकर अलीगढ़वासियों की धरातल पर समस्याओं को जानने के पश्चात् अलीगढ़ स्मार्ट सिटी की परिभाषा सिद्ध होगी।उप सभापति पुष्पेन्द्र जादौन ने भारत सरकार और राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रही स्मार्ट सिटी योजना में अलीगढ़ के हर नागरिक को जोड़ने और सहयोग की बात कही। पार्षद अनिल सेंगर ने भी स्मार्ट सिटी में पार्षदों और क्षेत्रीय जनता की समस्याओं और सुझावों को शामिल करने का सुझाव दिया। पार्षद हेमन्त गुप्ता ने अलीगढ़ स्मार्ट सिटी को पूरे पार्षदो सहित अलीगढ़वासियों का सहयोग देने का आश्वसन दिया। पीएमसी के हैड हिमाशू पाठक ने बताया कि स्मार्ट सिटी प्रस्ताव के अन्तर्गत एबीडी एरिया में पार्षद वार्ड 23, 43,18,48,4908,26,54,5960,10,33,52,49,46,36,17 कुल 17 वार्डो को चयनित किया गया है जिसमें स्मार्ट सिटी के निर्धारित 12 मड्यूल पर कार्य किया जायेगा।सहायक नोडल राजेश गुप्ता ने बताया कि स्मार्ट सिटी लिमिटेड की कार्यशाला का जवाहर भवन में तीसरे दिन समापन होगा जिसमें आने वाले दिनों में धरातल पर स्मार्ट सिटी में होने वाले कार्यो पर चर्चा होगी।नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने बताया कि आने वाले दिनों में स्मार्ट सिटी के पहले चरण में घंटाघर पार्क में लाइटिंग, टै्रफिक मैनेजमेंट सिस्टम, स्मार्ट रोड के साथ-साथ लोगों की सोच को स्मार्ट बनाने पर बल दिया जायेगा।बैठक में महापौर मौहम्मद फुरकान, नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पट्रेल, कार्यशाला में पार्षद अनिल सेंगर, हरेन्द्र गुप्ता, पुष्पेन्द्र जादौन, वीरेन्द्र सिंह, कविता शर्मा, अलका गुप्ता, सुबोध कुमार, विजय तोमर, मधुरानी, मुकेश शर्मा, नफीस शहीन सहित अनेको पार्षद, नगर निगम मुख्य अभियन्ता कैलाश सिंह, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ शिव कुमार, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी डॉ संजीव कुमार, महाप्रबंधक जल शैलेन्द्र पाठक, लेखाधिकारी राजेश गौतम सहायक लेखाधिकारी अखिलेश तिवारी अधिशासी अभियन्ता रमाकान्त राम, कर निर्धारण अधिकारी हरगोविन्द सिंह यादव, सहायक अभियन्ता अतर सिंह, एनके कनौजिया, कर अधीक्षक सभापति यादव, अजीत राय, राजेश गुप्ता, संजय सक्सैना, देश दीपक, अहसन रब आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!