Home > Aligarh > अलीगढ़ में होर्डिग ठेका साधारण व्यक्ति को मीडिया ग्रुप नाराज

अलीगढ़ में होर्डिग ठेका साधारण व्यक्ति को मीडिया ग्रुप नाराज

अलीगढ़। स्थानीय नगर निगम से होर्डिग के ठेके में मीडिया के एक ग्रुप का वर्चस्प समाप्त होने से निगम अधिकारियों पर तरह तरह के आरोप लगाए जा रहे है। जबकि ठेका पूर्ण पारिदर्शिता के साथ पहली बार एक सामान्य ठेकेदार को तीन करोड़ साठ लाख पचास हजार पॉच सौ इक्यावन रूपए में उठा दिया गया। इस सामान्य व्यक्ति के पक्ष में ठेका जाने से मीडिया ग्रुप नाराज हो गया और उसने निगम परिसर में जमकर हंगामा किया।मीडिया गु्रप का आरोप है कि एक माननीय को लाभ पहुंचाने के लिए सत्ता के दवाब में निगम अधिकारियों ने होर्डिग ठेके का खेल खेला है। यह ठेका पहले आठ मार्च फिर नौ मार्च फिर उन्नीस मार्च अंत में बीस मार्च को खोला जाना था। निगम अधिकारियों ने पहले से तय कर लिया था कि इस बार पूर्ण पारिदर्शिता के साथ बिना किसी दवाब के यह ठेका आंवण्टित किया जाएगा। सेवा भवन के मीटिंग हॉल में छह फर्मो द्वारा निविदाएं डाली गई। ई. ट्रेडिंग द्वारा रेट दर्ज हुए और सामान्य व्यक्ति को निविदा को सही और संतुलित मानकर उसके पक्ष में होर्डिग ठेका आवण्टित कर दिया गया। मीडिया के दो गु्रप जिनमे जागरण प्रकाशन लिमिटेड व एक स्थानीय मीडिया गु्रप जो रिश्वत के तौर पर अधिकारियों से वर्क आर्डर झपटता रहा है। उसने हंगामा खड़ा कर दिया और धमकी दी कि वह इस होर्डिग ठेके के खिलाफ कोर्ट जाएगे। इस हंगामे को देखकर अन्य मीडियाकर्मी अतप्रभ रह गए और स्थानीय मीडिया गु्रप की पोल सबके सामने खुल गई। पहली बार मीडिया कर्मियो को एहसास हुआ कि कुछ कथा कथित पत्रकारों ने मान्यता की आड़ में किस प्रकार बेहिसाब सम्पत्ति जमा की है। एक और निगम अधिकारी मीडिया गु्रप की पोल खोल रहे थे तो दूसरी और मीडिया गु्रप निगम अधिकारिया को गन्दी गन्दी गालियां दे रहा था और उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहा था हंगामा काफी देर तक चलता रहा किन्तु पहली बार निगम अधिकारियों ने पारिदर्शिता के साथ ठेके जो आवण्टन किया उससे व सन्तुष्ट थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!