Home > Aligarh > प्रतिभा निखारने का माध्यम है प्रतिभागिता

प्रतिभा निखारने का माध्यम है प्रतिभागिता

वार्षिक समारोह का चेयरमैन खैर ने किया शुभारम्भ
Rajeev Gautam 
खैर। विधालयों द्वारा आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रम छात्र छात्राओं के मानसिक विकास में सहायक होते है। इसलिये विधालय संचालकों को चाहिये कि समय समय पर विधालयों में कार्यक्रमों व प्रतियोगिताओं का आयोजन कराते रहे।
उक्त उदगार स्थानीय राज टेलेन्ट स्कूल के वार्षिक समारोह में चेयरमैन संजीव अग्रवाल ने कहे। इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ चेयरमैन संजीव अग्रवाल ने मां सरस्वती के छाया चित्र पर दीप प्रज्जवलित कर किया। उन्होने कहा कि विधालय प्रतिभा को निखारने का सफल मचं होता है। साथ ही वाद विवाद प्रतियोगिता तथा भाषण आदि के माध्यम से छात्र छात्राओं में तारतम्यता का विकास होता है। उनमें छिपी रहने वाली झिझक भी समाप्त होती है। विधालय के संस्थापक वैज्ञानिक डा0 आर पी सिंह व प्रबंधक घाटी गौतम ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चेयरमैन संजीव अग्रवाल को माल्यार्पण व शाल उडाकर तथा स्मृति चिहृन प्रदान कर सम्मानित किया। वार्षिक समारोह के उपलक्ष्य में आयोजित प्रतियोगिता में विजयी रहे छात्र छात्राओं को चेयरमैन खैर ने प्रशस्ति पत्र व शील्ड देकर पुरूस्कृत किया तथा विधालय की पत्रिका जिज्ञासा का भी विमोचन किया। इस मौके पर प्रधानाचार्य नरेन्द्र शर्मा,राकेश शर्मा, डौली,आरती, रिंकी शर्मा, मृदुला शर्मा आदि स्टाफ मौजूद रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!